रोलाँ गैरो - दिग्गजो को नहीं रास आती ये लाल मिट्टी



 
28 मई से 10 जून तक होने वाला साल का दूसरा टेनिस ग्रैन्‍ड स्लैम टूर्नामेन्‍ट फ्रेंच ओपन (रोलैण्‍ड गारोस) लाल मिट्टी पर खेला जाने वाला विश्‍व का एक मात्र टूर्नामेन्‍ट है। यह टूर्नामेन्‍ट इस लिये भी प्रसिद्ध यह कई विश्‍व प्रसिद्ध नम्‍बर एक खिलाडि़यों को यह लाल मिट्टी रास नही आई है। विश्‍व मे सर्वाधिक 14 गैन्‍डस्‍लैम जीतने का रिकार्ड आपने नाम करने वाले पीट सैम्‍प्रास, उनके रिकार्ड को तोड़ने मे प्रयासरत लगातार 173 सप्‍ताह तक नम्‍बर 1 रहने का रिकार्ड बनाने वाले रोजर फेडरर, 8 गैन्‍डस्‍लैम धारी जि‍मी कॉ‍नार्स, 7 ग्रैन्‍डस्‍लैम खिताबधारी जॉन मैकनेरों, 80 हफ्ते तक नम्‍बर एक रहे लेटेन हेविट, 6 खिताब धारी और 58 हफ्तों तक नम्‍बर एक रहे स्‍टेफन एडबर्ग, मात्र एक हफ्ते नम्‍बर 1 रहे पैट्रिक रफ्टर जिन्‍होने दो ग्रैण्‍ड स्लैम जीता है, पूर्व नम्‍बर एक रूसी मरात साफिन, अमेरिकी क्‍यूट ब्वाय के नाम से मशहूर एंडी रोडिक सहित कई बड़े पुरूष खिलाड़ी है जो इससे आज तक महरूम है।

ऐसा नही है कि महिला खिलाडि़यों पर यह लागू नही होती है इस लिस्‍ट मे पहला नाम आता है विश्‍व की सबसे कम उम्र मे नम्‍बर एक का बनने का रूतबा हासिल करने वाली मार्टीना हिंगिस, हिंगिस के शान के कसीदे अभी खत्‍म नही होते है हिंगिस को 209 हफ्ते तक नम्‍बर एक रही है। हिंगिस को एक बार फ्रेंच ओपन के फाइनल खेलने का अवसर मिला था किन्‍तु इस अवसर मे एक अनाम सी खिलाड़ी इवा मन्‍जोली के हाथो हार का समाना करना पड़ा था। मार्टीना की समकालीन और उनकी सबसे बड़ी प्रतिस्‍पधी पूर्व नम्‍बर एक लिंडसे डेवनपोर्ट भी तीन गैन्‍ड स्‍लैम जीता पर फेंच ओपन को जीतने मे नाकामयाब रही। गौर तलब है कि लिंडसे ने यह तीनों हिंगिस को हरा कर ही जीता था। ब्‍लैक ब्‍यूटी के नाम से मशहूर विलियम बहनों मे एक वीनस ने भी 5 गैन्‍ड जीता पर इसे जीत न सकी। यह संयोग ही कहा जायेगा कि सेरेना इसे एक बार ही जीत सकी है वो भी तब जब इनकी बड़ी बहन वीनस इसकी प्रतिस्‍पधी थी। हाल मे ही सन्‍यास लेने वाली किम क्‍लाइस्‍टर्स, आयोजक देश की ऐमेली मरसमों, रूसी सुन्‍दरी मारिया सारापोआ, भी इस लाल बजरी पर खिताबी जीत पाने से महरूम रही है।

उपरोक्‍त सभी खिलाड़ी कभी न कभी नम्‍बर एक रहा है परन्‍तु देखना है कि क्‍या इस बार वर्तमान मे खेल रहे इन मशहूर खिलाडियों मे से कोई इस मिथक को तोड़ पाने मे सफल रहेगा? अगर यह होता है तो निश्चित रूप से इन खिलाडियों के लिये व्‍यक्तिगत उपल‍ब्धी होगी, क्‍योकि दिग्‍गजो को नहीं रास आई ये लाल मिट्टी।

मै जल्‍द ही नया फेन्‍च ओपन से सम्बन्धित लेख लेकर आऊँगा कि पर होगा इस प्रतियोगिता को जीतने का दारोमदार। तब तक आप आप भी फेन्च ओपन जीतने का प्रयास कर सकते है, यहॉं पर भी आपके लिये प्रतियोगिता चल रही है, और इनाम है वो भी डालरों मे है तो कीजिये आपने आपको इस प्रतियोगिता मे रजिस्टर, आप रजिस्‍टर करते समय स्‍पोन्‍सर आईडी मे मेरी आईडी mahashakti दे सकते है।


Share:

2 comments:

संजय बेंगाणी said...

लगता है टेनिस प्रिय खेल है.
सही है.
लिखते रहें.

Anonymous said...

अच्‍छी जानकारी है।