जा रही हो, अब दोबारा मत आना



आज सुबह से ही मन व्‍यथित था, जब यह समाचार पढ़ा की मार्टीना हिंगिस ने पुन: संन्‍यास ले लिया है, यह किसी भी टेनिस प्रंशसक को व्‍यथित करने वाला समाचार है। खबर थी कि विम्‍बडन के दौरान कुछ प्रतिबन्धित दवाओं के सेवन की दोषी पाई गई थी, और हिंगिस ने अपने आपको 100% निर्दोष हूँ, किन्‍तु मै वाडा (प्रतिबन्धित दवाओं की जॉंच संस्‍था) से लड़ाई के नही चाहती हूँ। मैने हिंगिस के लिये लिखा है काफी मजा आया है लिखने में पर आज नही लिख पा रहा हूँ। हिगिंस जा रही हो, अब दोबारा मत आना, एक बार पहले भी गई थी, तब भी दर्द हुआ था आज तुमने फिर से उसी जगह पर ला कर खड़ा दिया है। अब बर्दाश्‍त के बाहर है, एक बार मारो बार बार नही। मेरे लिये हि‍गिंस के प्रति लिखना बाये हाथ काम है किन्‍तु मन इतना व्‍यथित है कि क्‍या कुछ लिखा नही जा रहा है। हिगिंस मै तुम्‍हे न भूल पाऊँगा। हिगिंस के सम्‍मान में आपके सामने फिर से अपने लेख का लिंक दे रहा हूँ।

भारत मे हिगिंस ने किया जोरदार वापसी आगाज


Share:

1 comment:

Udan Tashtari said...

बहुत व्यथित कर गई आपको. हर पंक्ति में दर्द का अहसास है.