कुछ बातें ...



आज काफी दिनों बाद लिख रहा हूँ, चाहता हूँ कि कुछ न कुछ अच्‍छी खबरें ही सुनाऊँ, तो प्रस्‍तुत कुछ अच्छे काम जो युवाओं द्वारा किये जा रहे है-

अत्‍यंत हर्ष का विषय है कि हिन्‍द युग्‍म ने हिन्‍दी ब्‍लागिंग के क्षेत्र में दिनों दिन मील का पत्‍थर निर्माण करता चल रहा है। हाल के दिनों में युग्‍म के वरिष्‍ठ साथी श्री मोहिन्‍दर कुमार जी तथा श्रीमती रंजना भाटिया जी ने तरकश द्वारा आयोजित प्रतियोगिता में प्रथम स्‍थान प्राप्‍त किया। जो निश्चित रूप से किसी भी लेखक, कवि या समूह के लिये गर्व विषय होगा कि उनके साथी अथवा उनके सदस्‍य अपनी प्रतिभा का लोह मनवा रहे है। सर्व प्रथम इन दोनो साथियों को बधाई देना चाहूँगा।

अभी हाल में सूचना मिली की हमारे एक और वर‍िष्‍ठ साथी श्री सजीव सारथी के कुशल मार्ग दर्शन में कुछ साथियों ने पहला सुर नाम की संगीतमय प्रस्‍तुति प्रस्‍तुत किया है, जिसके लिये सजीव जी तथा उनके टीम की जितनी तारीफ की जाये कम होगी। इस सीडी के बारे में इतना जरूर कहना चाहूँगा कि इस संगीतमय प्रस्‍तुति में इसमें युग्‍म के विभिन्‍न कवियों के 10 कविताओं/गीतों को समाविष्‍ट किया गया है, तथा विभिन्‍न उम्दा नवोदित गायकों ने इसमें अपनी आवाज दिया है।

हिन्‍द युग्‍म की ओर से विश्‍व‍ पुस्तक मेले में, अपनी सहभागिता भी दिखाने का प्रयास किया है, इस मेले में युग्‍म का भी स्‍टाल लगा हुआ, आप सभी पाठको से नि‍वेदन है कि आप सभी एक बार अवश्‍य आपनी उपस्थिति दर्ज करवा कर हमारें प्रयासों को देखे और हमें और कुछ नया करने के लिये प्रेरित करें। इस स्‍टाल पर आपको इस सीडी सहित अन्‍य समाग्रियॉं भी मिल जायेगी। आप सभी हाल नम्‍बर 12 ए, स्‍टैन्‍ड नम्‍बर एस1/10 वाणी प्रका‍शन के समाने जरूर पधारने का कष्‍ट कीजिएगा। याद रखिऐगा भूलियेगा मत :)


Share:

No comments: