कुत्ते का 'रेप करने वाले' को नहीं मिली जमानत (वयस्‍क पोस्‍ट)



हे, भगवान घोर कलयुग आ गया है, आज ईमेल पर एक नवभारत टाईम्स की एक खबर पढ़ने को मिली "कुत्ते का 'रेप करने वाले' को नहीं मिली जमानत" हंसी भी आयी और थोड़ा शर्म भी, कि अब मुझे भी लगने लगा था कि हमारा जेनेरेशन में बदलाव हो गया है। और तो और जब पेज पर जाकर कमेन्‍ट्स पढ़ा तो और भी हंसी आई।






एक सज्जन कहते है कि - यह कोई नयी बात नहीं है,, मेरे कुछ हरियाणा के दोस्त बताते है कि नयी उमर में मादा डंकी के साथ सेक्स करने पर पिंपल्स नहीं निकलते , इसलिए यह हरियाणा में काफ़ी प्रचलित है अब पता नही कि कितना सही है वैसे मैने सुना है कि शेर के साथ सेक्‍स करने के एड्स और हाथी के साथ कैंसर भी ठीक हो जाता है, कोई रोगी हो और किसी मे इनसे सेक्‍स करने बूता हो सच्‍चाई का पता चले। :)










खैर आप उस खबर को पढ़ये और आनंद लीजिए और शर्म आये तो मन ही मन अथवा खुल कल हँस लीजिऐ!




यह रही नव भारत टाईम्स की खब़र
यह अपने आप में अनोखा होने के साथ-साथ भारतीय कानून-कायदे के इतिहास में इस तरह का शायद पहला मामला है। कुत्ते का बलात्कार करने के आरोप में 30 अगस्त से जेल में बंद मुंबई के टैक्सी ड्राइवर की जमानत याचिका सेशन कोर्ट ने खारिज हो गई है। आरोपी ड्राइवर का तर्क है कि उसे बेल दे दी जानी चाहिए क्योंकि पुलिस पीड़ित का बयान रेकॉर्ड नहीं कर सकी है।
 
एक महिला द्वारा अपने पालतू कुत्ते से बलात्कार की शिकायत दर्ज कराए जाने के बाद मुंबई पुलिस ने काफी पसोपेश के बाद ताड़देव से आरोपी टैक्स ड्राइव महेश कामत को गिरफ्तार कर लिया था। कुत्ते का मेडिकल कराने के बाद पुलिस ने पुलिस ने कामत के खिलाफ धारा-377 ( अप्राकृतिक सेक्स का मामला) और जानवरों के खिलाफ क्रूरता रोकने के कानून के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी।
 
इस मामले लगभग पिछले एक महीने से जेल में बंद कामत का तर्क है कि उन पर जानवरों के खिलाफ क्रूरता का मामला नहीं बनता है क्योंकि जिस कुत्ते के बलात्कार का आरोप है वह पालतू नहीं है। कामत का यह भी कहना है कि पूरे मामले में उन्हें गलत तरीके से फंसाया गया है।

कोर्ट ने कामत की याचिका को खारिज करते हुए कहा कि उसके खिलाफ काफी सबूत हैं। कोर्ट ने यह भी कहा कि कामत के ऊपर जिस अपराध का आरोप है वह इलाके के लोगों को व्यथिक करने वाला है और यह जानवरों के खिलाफ क्रूरता भी है।
 
इस मामले में सबूत के तौर पर पुलिस के पास कुत्ते की मेडिकल रिपोर्ट और कुत्ते की मालकिन होने का दावा करने वाली एकमात्र गवाह का बयान है। इस मामले में पीड़ित का बयान दर्ज करना पुलिस के लिए टेढ़ी खीर है। पुलिस और कानून विशेषज्ञों का मानना है कि केवल सबूतों के आधार पर मामला चलाने का यह शायद पहला उदाहरण होगा। इसलिए पुलिस ने इस मामले में कामत को कोर्ट में घेरने के लिए डीएनए और फॉरेन्सिक सबूत भी जुटाए हैं।
 
वैसे इस पोस्‍ट मे कुछ भी वयस्‍क श्रेणी वाला तत्‍व नही है किन्‍तु ब्‍लाग जगत मे भुकुटी तानने वालो की कमी नही है, सो चेतावनी दे दे रहा हूँ। :)


Share:

15 comments:

महफूज़ अली said...

हा हा हा हा हा हा .... मज़ा आ गया पढ़ के...

अच्छा हुआ .... आपने चेतावनी दे दी थी....

डा.रूपेश श्रीवास्तव(Dr.Rupesh Shrivastava) said...

सही बात है भाई इस अपराधी को तो सजा होनी ही चाहिए चाहे अजमल कसाब को बाइज़्ज़त बरी कर दिया जाए क्योंकि मामला कुत्ते का है भारत माता की अस्मिता से बलात्कार तो आजकल आम बात हो चुकी है :x

Arvind Mishra said...

अप्राकृतिक !

राज भाटिय़ा said...

अभी दो चार साल पहले दिल्ली मै किसी नेता वेता के लडके ने किसी लडकी को(वेटर) को सरे आम गोली मार दी, कभी बलात्कार की खबर आई, लेकिन सब गवाह के कारण छुट गये, क्यो कि वो इन ..... के बेटे थे ओर मरने लुटने वाली वाली किसी गरीब घर की बेटी थी, मुझे लगता है यह कुतिया किसी बडे घर की इज्जत होगी ओर इस टेकसी वाले को नही छोडना चाहिये यह इन लोगो की नकल करता है, वाह क्या कानून है, अपराधी ऎश करे ओर ...

ज्ञानदत्त G.D. Pandey said...

भृकुटी तानक कोई चेतावनी से डरते हैं!

Rakesh Singh - राकेश सिंह said...

अब क्या कहें ? पुलिस और अपनी न्याय व्यवस्था को आम जन के दिक्कतों पे इतना active होते नहीं देखा है ...

Anonymous said...

ऐसोँ के साथ यही होना चाहिए

ajeet said...

भैया इस टेक्सी वाले के विरुद्ध कड़ी से कड़ी कार्यवाही होनी चाहिए क्योंकि यह रौल की नक़ल कर रहा था उसने गेस्ट हाउस के कर्मचारी की लड़की के साथ दोस्तों को लेकर रात रंगीन की इसको लड़की नहीं मिली तो कुतिया के सहारे रौल की टक्कर लेने निकला था.

ajeet said...

भैया इस टेक्सी वाले के विरुद्ध कड़ी से कड़ी कार्यवाही होनी चाहिए क्योंकि यह रौल की नक़ल कर रहा था उसने गेस्ट हाउस के कर्मचारी की लड़की के साथ दोस्तों को लेकर रात रंगीन की इसको लड़की नहीं मिली तो कुतिया के सहारे रौल की टक्कर लेने निकला था.

tribhuvan nath said...

p n oak u r 100% wright,i saw so many places and think why this type now my bad condition,so answer is ,because we all of bhartiya people now only businessman mentality,they think only personal profit not nation nor humanity.Present Indian people support only corruption & rape minded.my email-drtnshrivastava@yahoo.com

tribhuvan nath said...

thanks for googl ac, that u published in hindi version,for easy understanding.

tribhuvan nath said...

now a days all indian political leaders daily raped society,nation,honesty,poor peoples and so on,if they not punished by......? then why dog punished bechara.

Vijay Pratap Singh said...

अोह हो

Vijay Pratap Singh said...

अोह अो

Anonymous said...

Jab hardoi me mahila judge ke saath rape Hua jab Delhi me Ek student ke saath huaa jab इटावा me huaa Ek 14saal ke standard 7th ke student ke saath huaa tab kaha kha thi prasasan kamat ji ko bell de di jaani chahiye 8se10 khun karnewaale aajad ghum rahe hai