अमृत वचन स्‍वामी राम तीर्थ (Amrit Vachan Swami Ram Tirath)



अमृत वचन  स्‍वामी राम तीर्थ (Amrit Vachan Swami Ram Tirath)
"किसी देश की उन्नति छोटे विचार के बड़े आदमियों पर नही, अपि‍तु बड़े विचार के छोटे आदमियों पर निर्भर है।" - स्‍वामी रामतीर्थ
 
अन्य उपयोगी पोस्ट्स


Share:

अवैध टिप्पणी मे 6 Anonymous गिरफतार



 
कल की पोस्‍ट मे मैने अवैध टिप्पणी की बात कि थी जिसमे अश्लील और वायरस युक्‍त टिप्पणी की बात की थी, आज सुबह मै जब अपने ब्‍लाग को देखा तो 6 इसी प्रकार की टिप्‍पणी ब्‍लाग पर मौजूद थी, जो मॉडरेशन के कारण प्रकाशित नही हो पायी।
मै विगत दिनो से इस प्रकार की टिप्‍पणी के कारण बहुत ही परेशान था, मुझे समझ मे ही नही आ रहा था कि इसका हल क्‍या हो ? तभी एक-दो मित्रो से मॉडरेशन के सम्‍बन्‍ध मे बात हुई और मैने ऐसा कर दिया, और इस प्रकार अब ये टिप्‍पणी प्रकाशित नही हुई।
ब्‍लाग पर इस प्रकार की टिप्‍पणी मेरे ही ब्‍लाग नष्‍ट करे का सुनियोजित फार्मूले के तहत काम किया जा रहा है या यह नेट की सामान्‍य प्रक्रिया। आप सभी का हार्दिक अभार की इस सब के बाद भी आपका प्‍यार स्‍नेह बरकार है।
पुन: आप सबसे निवेदन है कि मेरे ब्‍लाग मे स्थि‍त किसी भी कमेन्‍ट के लिंक को कदापि न खोले यह वायरस हो सकता है और यह आपके कम्‍यूटर को हानि पहुँचा सकता है।


Share:

ब्‍लाग मांडरेशन मे, कमेन्‍ट लिंक को मत खोले



मै शुरूवात से ही टिप्‍पणी के माडरेशन का विरोधी रहा हूँ किन्‍तु विगत कुछ माह से मेरे ब्‍लाग के कुछ लेखो पर जमकर टिप्‍पणी की वर्षा हो रही है। जो निहायत ही अश्लील टाईप की है, मुझे लगता है कि यह स्‍पैम जैसी प्रथा का शिकार है।
कुछ दिन पूर्व ही पता चला कि महाशक्ति समूह पर पर वायरस अटैक हुआ है, फायरफाक्स से खोलने पर यह वायरस का संदेश देता है और कम्‍यूटर के लिये हानिकारक बताता है।
मेरे ब्‍लाग के कुछ ऐसे लेख है जिस पर लगा तार ऐसी टिप्पणी आ रही है -
इस कारण मुझे अपने ब्‍लाग टिप्‍पणी को माडरेशन मे रखना पड़ा रहा है, आपसे निवेदन है कि कि किसी भी प्रकार की टिप्‍पणी के लिंक को खोलने का प्रयास मत करे। मै इसे हटाने का प्रयास कर रहा हूँ। धन्‍यवाद


Share:

बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर के जन्‍मदिन पर



आज बाबा साहेब का जन्‍मदिन है उनके नमन, कालेज जाते समय एक गॉव पड़ता है, जहाँ बाबा साहेब की यह मूर्ति है कई ऐसे रास्‍ते गॉव मिल जायेगे जहाँ बाबा साहेब की ऐसी मूर्ति अक्‍सर मिल जाती है। मायावती जी के मूर्तियों के आगे इन गरीबो की बाबा साहेब की मूर्तियों की क्‍या औकात ?


Share:

एक सार्वजनिक पत्र {TRSM} Is New World के नाम



मित्र {TRSM} Is New World आपका हार्दिक स्‍वागत है, आपके कुछ कमेन्‍ट्स महाशक्ति ब्‍लाग के कुछ लेख (अल्‍लाह की शक्ति का अतिक्रमण करता भारतीय संविधान, कठमुल्‍लों फतवा जारी करो) तथा लेखों पर देखे, आपका सम्‍पर्क सूत्र खोजने का प्रयास किया किन्‍तु कोई सूत्र नही मिला। मेरा ईमेल pramendraps(at)gmai.com है। आप इस पर मुझ पर सम्‍पर्क कर सकते है मै आपके मेल का त्‍वरित उत्तर दूँगा, अगर आप अपना दूरभाष नम्‍बर हो तो प्रदान करे।

आपका अपना
प्रमेन्‍द्र प्रताप सिंह


Share: