समाजवादी सरकार की धर्मनिरपेक्षता के नए आयाम, मंदिर गिराया गया



नोयडा के निलौनी गाव में निजी जमीन पर बने के मंदिर और गौशाला को नगर विकास मंत्री आज़म खान के शह पर ३०-६-२०१३ को बिना कारण बताओ नोटिस दिए गिरा दिया.. मेरे पास हार्ड कॉपी फोटोग्राफ है जो मैंने अपलोड नहीं कर पा रहा हूँ.. 
आख़िर मदिरों को क्यों गिराया जाता है? क्योकि मंदिरों में ख़ुदा नहीं रहते ? या हिन्दू मुस्लिमो कि तरह बावली नहीं है? या सत्ता के समाजवादी दलालों के लिए हिन्दू कोई वोट बैंक नहीं है?


Share:

No comments: