लुघु पोस्‍ट - हो गये चिट्ठाकारी को तीन साल



आज चिट्ठाकारी में मुझे 3 साल पूरे हो गये, चौथे साल में प्रवेश कर रहा हूँ। तब से अब तक में बहुत कुछ बदल गया, सबसे ज्‍यादा सक्रियता। एक समय ऐसा था कि 2007 August ही अकेले 32 पोस्‍टे हुई थी, आज की गति ये है कि आधा साल बीतने को है 34 पोस्‍ट ही लिख पाया हूँ। आत्‍मसंतोष की घंटी बजा सकता हूँ कि आज-तक चिट्ठाकारी जारी है। ब्‍लाग के आर्चीव 2009 (34), 2008 (114), 2007 (152) व 2006 (28)पोस्‍टों के साथ चार साल के दर्शन कर भविष्‍य में चिटठकारी के लाईफ टाईम अचीवमेन्‍ट की दौड़ में आगे बने रहने ख्‍वाब पाल सकता हूँ। :)

आज बहुत ज्‍यादा लिखने का इरादा नही है, लघु पोस्‍ट से ही काम चला लीजिए। जल्‍द ही मिलूँगा, आप सभी के स्‍नेह व प्रोत्‍साहन लिये धन्‍यवाद। चूकिं यह पोस्‍ट कल ही आनी थी, 30 जून को ही मैने चिट्ठाकारी प्रारम्‍भ की थी, किन्‍तु कल का दिन व्‍यस्‍तता भरा होने के कारण पोस्‍ट नही कर सका।


Share: