हँसना भी जरूरी - भाग एक



राधा मीना से - मिसेज शर्मा है न गधी है गधी घन्‍टे भर से मेरा सिर खा रही थी।
मीना - बेचारी भूखी रही होगी, सिर मे भूसा भरा देख कर रोक न सकी होगी।
------------------------------------------------------
मोनू - मम्‍मी आपने भइया को किस भाव से खरीदा है।
मम्‍मी -बेटे मैने उसे खरीदा नही, जन्‍म दिया है (समझाते हुये)
मोनू - फिर डाक्‍टर साहब ने उसे तौल कर क्‍यों दिया।
------------------------------------------------------
भिखारी - बाबुजी, अन्‍धे सूरदास को एक रूपया देदो।
साहब - सूरदास तो पूरे अन्‍धे थे, तुम्‍हारी एक आँख तो ठीक है।
भिखरी - तो पचास पैसे ही दे दो।
------------------------------------------------------
अध्‍यापक - काल कितने प्रकार के होते है
राजू - काई प्रकार के
अध्‍यापक - (गुस्‍साते हुये) बताओ
राजू - मिस काल, रीसीव काल और डायल काल
------------------------------------------------------
एक आदमी तेजी से बस मे चढ़ा और बोला लगता है सारे के सारे जानवर बस मे भरे है।
दूसरा आदमी बोला बस एक गधे की कमी थी वो भी पूरी हो गई।


Share:

मौसम की जानकारी देता पत्‍थर



कानपुर के एक मन्दिर है जहॉं एक ऐसा पत्थर है जो बिना किसी धोखे के 15 दिन पूर्व ही बारिश की जानकारी दे देता है। उत्तर प्रदेश की औद्योगिक नगरी कानपुर के बेहटा बुजुर्ग गांव में एक ऐसा पत्थर है जिससे मानसून आने से 15 दिन पूर्व ही पानी टपकने लगता है। पुरातात्विक विरासत को समेटे इस गांव में विशिष्ट वास्तु शैली में बने जगन्नाथ मंदिर के दो उन्नत शिखर विलक्षणता का आभास करा देते हैं। मुख्यद्वार पर प्राचीन पट है जिससे सूर्य के मुख से जंजीर निकलती दिखाई देती है। जंजीर की आखिरी कड़ी से तीन कडि़यों और फिर उससे नौ कडि़यों का विस्तार होता चला जाता है। मंदिर के गर्भगृह में दिन में भी अंधेरा छाया रहता है और इसी गर्भगृह में ही ऊपर वह पत्थर स्थित है जिसे यहां के लोग मानसून पत्थर कहते हैं। रहस्य को समेटे मानसून पत्थर की सूचना पर आस-पास के लोग खेती के बारे में निर्णय लेते हैं। मंदिर के गर्भगृह के दोनों ओर बनी छोटी छोटी कोठरियों में भगवान विष्णु की प्रतिमा है, इन्हीं में से एक में पुरावशेषों के ढेर हैं। गांव वालों का मत है कि अगर इस मंदिर और आस पास के क्षेत्र में खुदाई की जाए तो पुरातात्विक दृष्टि से कई महत्वपूर्ण चीजें भी मिल सकती हैं। 
दैनिक जागरण(Danik Jagran) से


Share:

शहनाज़ हुसैन के ब्यूटी टिप्स Shahnaz Hussain Beauty Tips in Hindi



आप शहनाज हुसैन के बारे में तो भली-भांति परिचित होगी जो कि इस देश की एक मशहूर ब्यूटी एक्सपर्ट हैं और ब्यूटी के क्षेत्र में नए और आधुनिक कार्य की सराहना के लिए इन्हें प्रतिष्ठित पद्मश्री पुरस्कार से भी नवाजा गया। उनकी सबसे खास बात यह है कि सभी के लिए विशेष तरह की ब्यूटी टिप्स देती हैं। उन्होंने आयुर्वेद का उपयोग करके तरह-तरह के ब्यूटी प्रोडक्ट्स भी दिए हैं और इस्तेमाल करने वाले भी इससे काफी लाभांवित हुए हैं। एक ब्यूटी एक्सपर्ट की बात हो रही है इसलिए उनके द्वारा बताए गए कुछ टिप्स भी यहां पर आपको बताएंगे जिससे आप भी उसका लाभ उठा सकें –
Shahnaz Hussain Beauty Tips in Hindi
  • स्किन का कॉन्प्लेक्शन ठीक करने के लिए टिप्स Skin Complexion Achcha Karne Ke Liye Tipsइसके लिए आप खीरे (ककड़ी) का जूस, नींबू का रस और कच्चा दूध बराबर मात्रा में लेकर उसे मिक्स कर लें और अपने चेहरे पर लगाएं। लगभग 15 मिनट के बाद इसे धो कर साफ कर ले। ऐसा करने से आपके चेहरे की स्किन में निखार आएगा और कॉन्प्लेक्शन (Complexion) बेहतर होगा। ऐसा रोजाना करने से कुछ ही दिनों में आप पाएंगी कि आपके चेहरे की रंगत बदल गई है।
  • चेहरे के काले धब्बे से पाएं छुटकारा Face Ke Dark Patches Hatane Ke Upayइसके लिए आप 10 ml शहद और 20ml नींबू का रस लें और इसे मिक्स (Mix) कर लें। इस मिक्सचर (Mixture) को अपने चेहरे पर लगभग 20 मिनट तक लगा कर छोड़ दें। इसके बाद इसे धोकर अच्छे से साफ कर लें। ऐसा प्रतिदिन करने से आपके चेहरे के काले धब्बे धीरे-धीरे गायब होने लगेंगे।
  • पिंपल्स से छुटकारा पाने के उपाय Shanaz Hussain Pimples Removal Tips in Hindiइसके लिए आप चंदन का एकदम ताजा फेस पैक बनाकर अपने चेहरे पर लगाएं और लगभग 15 मिनट के बाद इसे धो डालें। धोने के बाद नीम से बने सलूशन को अपने चेहरे पर लगाएं क्योंकि नीम एंटी बैक्टीरियल होता है इसलिए चेहरे को कीटाणु रहित बनाता है और चंदन से त्वचा में निखार आता है।
  • स्किन को ताजा और मुलायम रखने के लिए टिप्स Skin Ko Taaja Aur Mulayam Rakhane Ke Tipsइसके लिए आप दो चम्मच दही ले और उसमें हल्दी मिला लें इसके बाद इस पेस्ट को 10 से 15 मिनट तक चम्मच से खिलाते रहे। तब तक हिलाएं जब तक कि दही के मोटे-मोटे थक्के ख़त्म ना हो जाएं और उसके बाद इसे अपने चेहरे पर लगाकर 15-20 मिनट तक रहने दें। इसके बाद इसे साफ पानी से धो डालें। इसे रोज लगाएं और ऐसा रोज लगाते रहने से आपकी इसकिन मुलायम और ताजी बनी रहेगी।
  • ऑयली स्किन के लिए टिप्स Shanaz Hussain Oily Skin Tips In Hindiअगर आपकी स्किन ऑयली है तो आपके लिए विशेष प्रकार के केयर की जरूरत होती है। इसके लिए आप 10ml टमाटर का जूस लें और उसमें लगभग एक चम्मच दही मिलाकर मिक्स कर ले। इसको अपने चेहरे पर लगभग 20 मिनट तक लगा रहने दें उसके बाद इसे पानी से धो डालें। कुछ दिनों तक ऐसा ही करते रहने से आपकी चेहरे की स्किन में अच्छा फर्क दिखने लगेगा।
  • चेहरे की टैनिंग और सन बर्न से छुटकारा कैसे पाएं Face Tanning Aur Sun Burn Se Paayen Chhutkaraटैनिंग और सन बर्न से छुटकारा पाने के लिए आप 1 अंडा ले और उसमें एक चम्मच नींबू का रस और एक ही चम्मच शहद को मिलाकर अच्छी तरह से मिला ले। और अच्छी तरह से मिक्स होने के बाद इसे अपने चेहरे पर लगाकर लगभग 20 मिनट तक रहने दें। उसके बाद इसे अपने चेहरे से हटाने के लिए साफ पानी से धो लें ऐसा करने से आपके चेहरे के टैनिंग और सन बर्न की समस्या कुछ ही समय में दूर हो जाएगी।
  • ब्लैक हेड्स से कैसे छुटकारा पाएं Black Heads Removal Tips in Hindiब्लैकहेड से छुटकारा पाने के लिए शहनाज हुसैन जी के द्वारा आप सभी के लिए एक अच्छा स्क्रब टिप्स बताया गया है। इसके लिए आप चावल का आटा और दही, दोनों को थोड़ी-थोड़ी मात्रा में मिक्स कर लें तो यह स्क्रब की तरह काम करेगा। अब इस स्क्रब को अपने पूरे चेहरे पर लगा लीजिए और थोड़ा इसे हल्के हाथ से मलते रहें। थोड़ी देर तक ऐसा करते रहने से आपके चेहरे के ब्लैक हेड्स कुछ ही समय में समाप्त हो जाएंगे।
  • ग्लोइंग स्किन पाने के उपाय Shanaz Hussain Glowing Skin Tips In Hindiयदि आप अपने चेहरे की स्किन में और अधिक ग्लो चाहते हैं तो आप यह उपाय अवश्य करें। इसके लिए आपको ओटमील (Oatmeal), योगर्ट (Yogurt), शहद (Honey) और बदाम के पाउडर से एक फेस पैक बनाना होगा। इस फेस पैक को बनाने के लिए इन सभी को एक निश्चित मात्रा में मिलाकर मिक्स कर लें और अपने चेहरे पर 15 से 20 मिनट तक लगाकर रहने दे। इसमें जरूरी सावधानी यह है कि इसे आप धीरे-धीरे लगाएं और चेहरे की मसाज भी साथ में करते रहें। कुछ ही समय में इससे आपकी त्वचा में जबरदस्त निखार दिखने लगेगा।
  • ड्राई स्किन की क्लींजिंग कैसे करें Shanaz Hussain Dry Skin Cleansing Tips In Hindiयदि आपकी स्किन ड्राई है तो आप स्किन की गन्दगी से अवश्य परेशान रहती होंगी। लेकिन अब शहनाज हुसैन के द्वारा दी गई जानकारी से आप घर पर ही अपनी स्किन को साफ रख सकती हैं। इसके लिए आप लगभग 20 बूद Sunflower Oil और 7 बूद कच्चा दूध लें और उसे अच्छे से मिलाकर अपने चेहरे पर ठीक से लगाएं और उसके बाद अपने चेहरे को कॉटन या साफ कपड़े क्लीन करें। ऐसा रोजाना करने से आपकी स्किन कुछ ही दिनों में बढ़िया दिखने लगेगी।
शहनाज हुसैन ब्यूटी टिप्स और घरेलू उपाय
  • स्किन को सॉफ्ट और फ्रेश रखने के लिए थोड़ी सी हल्दी 2 चम्मच दही में मिला कर अच्छे से मिक्स कर ले और फेस पर लगाए। 15 मिनट बाद इसे पानी से धो कर साफ़ कर ले। हर रोज इस घरेलू नुस्खे को करने पर त्वचा मुलायम होती है और फ्रेश दिखने लगती है।
  • स्किन कॉम्प्लेक्शन अच्छा करने के लिए नींबू का रस, खीरे का रस और कच्चे दूध को एक समान मात्रा में ले कर मिक्स कर के चेहरे पर लगाए और 15 मिनट बाद फेस धो कर साफ़ कर ले। इस उपाय से फेस पर ग्लो (glowing skin) आएगा और स्किन का कॉम्प्लेक्शन अच्छा होगा।
  • चेहरे के काले दाग धब्बे हटाने के लिए 20 ml नींबू का रस और 10 ml शहद मिला कर इसका लेप फेस पर लगाए और 20 मिनट बाद साफ़ कर ले। प्रतिदिन इस फेस ब्यूटी टिप्स को करने से चेहरे के दाग धीरे धीरे गायब होने लगते है और चेहरा साफ़ होने लगता है।
  • पिम्पल्स से छुटकारा पाने के लिए चंदन का फेस पैक बना कर चेहरे पर लगाए और 15 मिनट बाद चेहरा धो कर साफ़ कर ले। इसके बाद नीम के पत्तों से बना सोलुशन फेस पर लगाए। नीम में एंटी बैक्टीरियल गुण होते है जो चेहरे के किटाणु ख़तम करता है। इससे बार बार मुंहासे निकलने की समस्या दूर होती है।
  • ऑयली स्किन का इलाज करने के लिए 1 चम्मच दही में 10 ml टमाटर का रस मिला ले और 20 मिनट पर फेस पर लगा रहने दे फिर फेस क्लीन कर ले। कुछ दिन लगातार इस शहनाज हुसैन के उपाय को करने से फेस की तैलीय त्वचा  ठीक होने लगेगी।
खूबसूरत त्‍वचा के लिये शहनाज हुसैन के घरेलू उपाय
  • एक चम्मच मुल्तानी मीट्टी और थोड़ा गुलाब जल मिलाकर इसका पेस्ट चेहरे पर लगाए और सूखने के बाद साफ़ कर दे। इससे रंग साफ़ होता है और ऑयली स्किन से छुटकारा मिलता है।
  • शहनाज़ हुसैन और दूसरे सभी ब्यूटीशियन के अनुसार त्वचा की रंगत बढ़ाने के लिए जादा से जादा पानी पीना चाहिए।
  • बाल तेजी से लंबे करने के लिए भी पानी अधिक पीना चाहिए। इससे सर में ब्लड का सर्कुलेशन अच्छा होता है और बालों को बढ़ने के लिए जरुरी पोषण मिलते है।
  • होंठ जादा फटते है तो रात को सोने से पहले होठों पर बादाम का तेल लगाए।
  • चेहरे की झुर्रियां दूर करने के लिए बादाम के तेल से हल्की मालिश करे।
  • सोने से पहले रात को चेहरे पर जमा मैल जरूर साफ़ करे इसके लिए जादा गरम या ज्यादा ठंडा पानी इस्तेमाल न करे, गुनगुना पानी प्रयोग करे।
  • शहनाज़ हुसैन का कहना है की कोल्ड ड्रिंक पिने की बजाय ताजे फलों का जूस पिने की आदत डाले। इससे आप को एनर्जी मिलेगी और आप ताजा महसूस करेंगे।
  • ग्लोइंग स्किन पाने के लिए ओटमील, दही, बादाम पाउडर और शहद का घरेलू फेस पैक  बना कर लगाए और साथ ही चेहरे की मसाज करते रहे। इससे त्वचा का रंग साफ़ होता है।
  • त्वचा को दिन में कम से कम 2 बार जरूर साफ़ करे।
  • घर से बहार जब से पहले सनस्क्रीन प्रयोग करे।
  • चेहरा खूबसूरत बनाने, रंग गोरा करने या ग्लोइंग फेस पाने के लिए अगर आप कोई क्रीम लगते है तो एक बार शहनाज हुसैन के टिप्स और घरेलू उपाय प्रयोग करके देखे। ऊपर बताये गए नुस्खे सिर्फ आपकी जानकारी के लिए है इस्तेमाल करने से पहले इन्हें करने का सही तरीका विस्तार में जाने।


Share:

दादागीरी



गांधीगीरी का गुण गान चारो तरफ हो रहा है, फिल्‍म भी हिट और सुपर हिट जा रही है। हर मुखडे पर गांधी गीरी की बाते हो रही है, मेरे घर मे भी इस फिल्‍म को देखने की बात चली और ले आये डीवीडी, और सायं काल 7 बजे इस को देखने की योजना बनी, यह योजना पापा जी की तरफ से भी उनका दिया हुआ समय था। चूकिं हमे पता था कि पापा जी 7 बजे तक समय नही निकाल पायेगे तो अम्‍मा जी ने कहा कि लगा लो तो हम लोगो ने फिल्‍म को लगा कर देखना शुरू कर दिया। पापा जी का आना हुआ लगभग 7:30 पर उस समय गान्‍धी जी को ढाल बना कर मुन्‍ना भाई प्‍यार के गीत गा रहे थे। तो आते ही पापा जी का कहना क्‍ि  गान्‍धी के देश मे गांधी जी की ऐसी भी र्दुगति लिखी है। वास्‍तव मे एक अलग थीम को लेकर बनाई गई है यह फिल्‍म तथा तथा यह काफी सफल भी रही और लोगो मे नई सोच लाने मे कामयाब रही।
आज मै गान्‍धी गी‍री की बात नही करना चाहता हूं गांधीगीरी के लिये काफी लोग है आज मे दादागीरी की बात कर रहा हूं। एक फिल्‍म जो हाल के कुछ वर्षो मे दादागीरी पर बनी थी वह फिल्‍म थी, शरारत। शायद यह फिल्‍म किसी को याद रही होगी। यह फिल्‍म दादा (वृद्वो) लोगो पर आधारित थी, वे दादा लोग जिनके गोद मे हमने कभी खेला था। पूरी फिल्‍म बुजुगों पर आधारित थी आज के दौर मे किस प्रकार उनकी उपेक्षा हो रही है वह पिता जो आपने जीवन काल मे सारी कमाई तथा प्‍यार आपने औलाद के लिये त्‍यज देता है और वह मां जो अपने पुत्र को के बोझ को 9 माह तक आपने कोख मे रखती है और सारा जीवन ममता न्‍यौछावर करती है वह मां-बाप जब वृद्व होने पर बोझ लगते है। बउी ही मार्मिक संवादो के साथ यह फिल्‍म बनी है, एक वाक्‍य ऐसे हृदय मे चोट करते है कि आखों मे पानी ला देता है। आज यह हलात है तो आने वाले हमारे समय मे हमारी क्‍या स्थिति होगी यह हमे सोचने पर मजबूर कर रही है। आज के दोर मे गांधीगीरी तो मात्र फिल्‍मों तक ही सीमित है, किन्‍तु इस फिल्‍म की कहानी लाखों करोडो परिवारो की कहनी है।
एक एक वृद्व पात्र का अपना दर्द है कोई आपने जो वास्‍तव मे हमारे समाज की वास्‍तविक स्थिति का दर्शन कराती है। इस फिल्‍म का एक गीत(गजल) बहुत ही सुन्‍दर तथा मार्मिक तरीके से गाया गया है इस गीत को मै काफी पंसद करता हूं और बार बार सुनने की इच्‍छा करता हूं, बस दिल से एक ही आवाज निकलती है कि-

ना किसी की आँख का नूर हूं,
ना किसी की आँख का नूर हूं
ना किसी के दिल का क़रार हूँ।
जो किसी के काम
न आ सके,
मैं वह एक मुश्त गुबार हूँ
ना किसी की आँख का नूर हूं
न तो मैं किसी का हबीब हूँ,
न तो मैं किसी का रक़ीब हूँ,
जो बिगड़ गया वह नसीब हूँ,
जो उजड़ गया वह दयार हूँ,
ना किसी की आँख का नूर हूं
मेरा रंगरूप बिगड़ गया,
मेरा यार मुझसे बिछड़ गया,
जो चमन ख़िज़ां से उजड़ गया,
मैं उसी की फ़सले बहार हूँ
ना किसी की आँख का नूर हूं..
गान्‍धी गीरी तो सब को समझ मे आ गई की बस उस दिन का इन्‍तजार है कि लोग दादागीरी को कब समझेगे।


Share:

आदर्श सूक्तियां और अनमोल वचन



निराश न होना


शब्द 

समय और समझ 

आम आदमी 

उम्मीद


समझदार व्यक्ति


जीवन सूत्र



























http://www.facebook.com/aajkaagrapage/


Share:

टेनिस चर्चा - सोनी एरिक्‍सन चैम्पियनशिप



दिनांक 5/11/2006 को महाशक्ति का स्‍थापना दिवस था मै उस पर कुछ देना चाहता था किन्‍तु आज से WTA Tour Championships शुरू हो रहा है इसका देना भी जरूरी था महाशक्ति तो घर की खेती है जब मन चाहेगा काट लिया जायेगा। मुझे इसमे कुछ समस्‍या आई तो सर्वप्रथम कविराज की शरण मे गया उन्‍होने भी समाधान किया फिर दूसरी समस्‍या आई तो प्रतीक जी से तकनीकि सहायता मिली, देखना है कि दूरस्‍थ शिक्षा का मै कितना उपयोग कर पाता हूं। प्रतीक भाई का पहला प्रश्‍न था आज कल कम दिख रहे हो, मैने कि तबियत गडबड थी इसलिये दिखावट मे कमी आ गई थी, मुझे नही पता मुझे क्‍या हुआ, इतनी तकलीफ भी कि आंसू से उसकी अभिव्‍यक्ति हुई। आज रात भी मै नही सो पाया, पिछले 48 घन्‍टे मे मै मात्र 12 घन्‍टे ही सो पाया हू पर सीने मे दर्द के के बाद भी मै बिल्‍कुल मन से तरोताजा महसूस कर रहा हूं नींद मेरे आखों मे नही है। वैसे कम्‍प्‍यूटर पर भी बैठने की इच्‍छा नही हो रही है, पर यह लेख पूरा करना था, और इसमे प्रतीक जी के लिये ईनाम का वादा भी किया था सो इस लिये यह और महत्‍वपूर्ण हो गया है। यह मेरे लिये अलग काम है इसमे मैने लगभग 100 अधिक टेनिस साइटो से जानकारी का प्रयोग किया है तथा चित्र को को भी लिया है मै इन सभी साइट मालिको का भी आभार व्‍यक्‍त करता हूं। अब आप इस लेख का मजा ले।
आज से WTA Tour Championships शुरू हो रहा है, इसका आयोजन प्रत्‍येक वर्ष के अन्‍त मे होता है यह वर्ष की अन्तिम प्रतियोगिता होती है। इसमे साल भर के शीर्ष आठ खिलाडी भाग लेते है। इसमे वरीयता का कोई मतलब नही होता है, रेस वरीयता का प्रयोग होता है। अगर वरीयता मे कोई खिलाडी 7वें या 8वें स्‍थान मे है किन्‍तु वह रेस वरीयता मे नही है तो वह इसमे खेलने का हकदार नही होगा। इस बार इस प्रतियोगिता मे निम्‍न शीर्ष 8 खिलाडी भाग लेगी। इसके खेलने का तरीका भी नया है बिल्‍कुल क्रिकेट वर्ल्‍ड कप जैसा। इसमे चार-चार खिलाडियो का ग्रुप होगा और दोनो गुप मे आपस मे खेलेगे। तथा प्रत्‍येक ग्रुप मे दो दो शीर्ष खिलाडी सेमी फाइनल होगा और जो जीतेगा वह फाइनल मे खेलेगी।
इस प्रतियोगिता मे खास बात यह होगी कि यह प्रतियोगिता तय करेगा कि साल की नम्‍बर एक खिलाडी कौन होगा, क्‍योकि शीर्ष तीन खिलाडियो मे व‍रीयता अंको का ज्‍यादा अन्‍तर नही है। अगर मरस्‍मो तथा शारापोवा मे जो फाईनल जीतेगा वह साल का नम्‍वर एक खिलाडी होगा। क्‍योकि मरस्‍मो तथा शारापोवा तथा के बीच 209 अंको का अन्‍तर है और जीतने वाले को मिलेगा 525 अंक और उपविजेता को मिलेगा 369 अंक, अगर मरस्‍मो उपविजेता भी र‍हती है तो वह यह उपलब्धि प्राप्‍त कर लेगी। जस्टिन हेनिन हडेन भी नम्‍बर एक की दौड मे कही पीछे नही है। इन दोनो के फाइनल मे न पहुचने तथा स्‍वयं खिताब जीतने पर वह भी नम्‍वर एक हो सकती है। और कोई खिलाडी नम्‍बर 1 की दौड मे नही है हां खिताबी जीत के लिये कई खिलाडी है। काफी दिन बाद ऐसा अवसर आया है कि इस प्रतियोगिता मे कोई अमेरिकी खिलाडी ही है। इस प्रतियोगिता मे टेनिस महाशक्ति रूस 4 खिलाडी लेकर आ रहा है। बेल्जियम 2, तथा स्विजरलैण्‍ड तथा फ्रांस के 1-1 खिलाडी है। प्रतियोगिता का ड्रा को दो भागो मे बांटा गया है पहला पीला तथा दूसरा लाल। पहले मे एमेली मरस्‍मो, जस्टिन हेनिन हडेन, नाडिया पेट्रोवा व मार्टीना हिगिंस तथा दूसरे मे मारिया शारापोवा, स्‍वेतलाना कुत्‍जेनेत्‍सेवा, एलीना डिमिन्‍टीवा व किम क्लिस्‍टर्स है इन शीर्ष खिलाडियो मे बता पाना कि कौन जीतेगा कठिन काम है। पर इतना तो कह ही सकता हूं कि किसमे कितना है दम :-
  • जस्टिन हेनिन हडेन प्रबल दावेदार फाइलन तक हो सकता है
  • मारिया शारापोवा प्रबल दावेदार फाइलन तक हो सकता है
  • एमेली मरस्‍मो दावेदार फाइलन तक हो सकता है
  • स्‍वेतलाना कुत्‍जेनेत्‍सेवा दावेदार सेमी फाइलन तक हो सकता है
  • नाडिया पेट्रोवा दावेदार फाइलन तक हो सकता है
  • एलीना डिमिन्‍टीवा सफर पहले दौर मे समाप्‍त हो सकता है
  • मार्टीना हिगिंस दावेदार फाइलन तक हो सकता
  • किम क्लिस्‍टर्स प्रबल दावेदार फाइलन तक हो सकता है
आप इन मैचो का आनंद ‘’जी स्‍पोटर्स’’ पर देख सकते है।

इन महिला महाशक्तियों मे कौन कितने पानी मे है यह आप इस तथ्‍यो से देख सकते है सभी जानकारियो एकल मुकाबले के है और पुरस्‍कार राशि सभी मुकाबले के है।

जस्टिन हेनिन हडेन
JUSTINE HENIN-HARDENNE (BEL)


जन्‍म तिथि ****** 1 जून 1982
  • देश ****** बेलजियम

  • खेल रही है ******* 1 जनवरी 1999

  • वरीयता ******* 3

  • रेस वरीयता ******* 1

  • ग्रैण्‍ड स्‍लैम विजेता ******* 5 एकल,

  • ग्रैण्‍ड स्‍लैम उपविजेता ******* 4 एकल,

  • चैम्पियनसिप विजेता ******* 0 एकल

  • चैम्पियनसिप उ0वि0 ******* 0 एकल

  • इस वर्ष का प्रदर्शन एकल
    • खिताबी जीत ******* 5इ
    • नामी राशि ******* $3,204,810
    • जीत-हार ******* 56-7
    सम्‍पूर्ण प्रदर्शन
    • खिताबी जीत ******* 28
    • इनामी राशि ******* $12,573,319
    • जीत-हार ******* 410-98
    अन्‍य
    • पहली बार नम्‍बर 1 रही ******* 20 अक्‍टूबर 2003
    • नम्‍बर एक रही ******* 45 हफ्तो तक
    मारिया शारापोवा
    MARIA SHARAPOVA (RUS)

    • जन्‍म तिथि ******** 19 अप्रेल 1987
    • देश ******** रूस
    • खेल रही है ******** अप्रेल 2001
    • वरीयता ******** 2
    • रेस वरीयता ******** 2
    • ग्रैण्‍ड स्‍लैम विजेता ******** 2 एकल,
    • ग्रैण्‍ड स्‍लैम उपविजेता ******** 0 एकल,
    • चैम्पियनसिप विजेता ******** 1 एकल
    • चैम्पियनसिप उ0वि0 ******** 0 एकल
    इस वर्ष का प्रदर्शन एकल
    • खिताबी जीत ******** 5
    • इनामी राशि ******** $3,424,501
    • जीत-हार ******** 56-8
    सम्‍पूर्ण प्रदर्शन एकल
    • खिताबी जीत ******** 15
    • इनामी राशि ******** $8,097,852
    • जीत-हार ******** 230-54
    अन्‍य
    • पहली बार नम्‍बर 1 बनी ******** 22अगस्‍त 2005
    • नम्‍बर एक रही ******** 7 हफ्तो तक
    एमेली मरस्‍मो
    AMELIE MAURESMO (FRA)

    • जन्‍म तिथि ********* 5 जुलाई1979
    • देश ********* फ्रान्‍स
    • खेल रही है ********* 1994 से
    • वरीयता ********* 1
    • रेस वरीयता ********* 3
    • ग्रैण्‍ड स्‍लैम विजेता ********* 2 एकल,
    • ग्रैण्‍ड स्‍लैम उपविजेता ********* 1 एकल,
    • चैम्पियनसिप विजेता ********* 1 एकल
    • चैम्पियनसिप उ0वि0 ********* 1 एकल
    इस वर्ष का प्रदर्शन एकल
    • खिताबी जीत ********** 4
    • इनामी राशि ********** $2,838,477
    • जीत-हार ********** 48-12
    सम्‍पूर्ण प्रदर्शन एकल
    • खिताबी जीत ********** 23
    • इनामी राशि ********** $12,371,232
    • जीत-हार ********** 455-177
    अन्‍य
    • पहली बार नम्‍बर 1 ********** 13 सितम्‍बर 2004
    • नम्‍बर एक रही ********** 38 हफ्तो तक
    स्‍वेतलाना कुत्‍जेनेत्‍सेवा
    SVETLANA KUZNETSOVA (RUS)


    जन्‍म तिथि ********** 27 जून 1985
  • देश ********** रूस

  • कब से खेल रही है ********** 2000 से

  • वरीयता ********** 4

  • रेस वरीयता ********** 4

  • ग्रैण्‍ड स्‍लैम विजेता ********** 1 एकल,

  • ग्रैण्‍ड स्‍लैम उपविजेता ********** 1 एकल,

  • चैम्पियनसिप विजेता ********** 0 एकल

  • चैम्पियनसिप उ0वि0 ********** 0 एकल


  • इस वर्ष का प्रदर्शन एकल
    • खिताबी जीत ********** 3
    • इनामी राशि ********** $1,848,304
    • जीत-हार ********** 59-18
    सम्‍पूर्ण प्रदर्शन एकल
    • खिताबी जीत ********** 8
    • इनामी राशि ********** $5,910,212
    • जीत-हार ********** 244-102
    अन्‍य
    • पहली बार नम्‍बर 1 ********** कभी नही
    • नम्‍बर एक रही ********** कभी नही
    नाडिया पेट्रोवा
    NADIA PETROVA (RUS)

    • जन्‍म तिथि ********** 8 जून 1982
    • देश ********** रूस
    • खेल रही है ********** 6 सितम्‍बर 1999
    • वरीयता ********** 5
    • रेस वरीयता ********** 5
    • ग्रैण्‍ड स्‍लैम विजेता ********** 0 एकल,
    • ग्रैण्‍ड स्‍लैम उपविजेता ********** 0 एकल,
    • चैम्पियनसिप विजेता ********** 0 एकल
    • चैम्पियनसिप उ0वि0 ********** 0 एकल
    इस वर्ष का प्रदर्शन एकल
    • खिताबी जीत ********** 5
    • इनामी राशि ********** $1,848,304
    • जीत-हार ********** 47-17
    • सम्‍पूर्ण प्रदर्शन एकल
    • खिताबी जीत ********** 6
    • इनामी राशि ********** $4,917,318
    • जीत-हार ********** 360-159
    अन्‍य
    • पहली बार नम्‍बर 1 ********** कभी नही
    • नम्‍बर एक रही ********** कभी नही


    एलीना डिमिन्‍टीवा
    ELENA DEMENTIEVA (RUS)

    • जन्‍म तिथि ********* 18 अक्‍टूबर 1981
    • देश ********* रूस
    • खेल रही है ********* 25 अगस्‍त 1998
    • वरीयता ********* 7
    • रेस वरीयता ********* 6
    • ग्रैण्‍ड स्‍लैम विजेता ********* 0 एकल,
    • ग्रैण्‍ड स्‍लैम उपविजेता ********* 2 एकल,
    • चैम्पियनसिप विजेता ********* 0 एकल
    • चैम्पियनसिप उ0वि0 ********* 0 एकल
    इस वर्ष का प्रदर्शन एकल
    • खिताबी जीत ********* 2
    • इनामी राशि ********* $1,116,505
    • जीत-हार ********* 47-18
    सम्‍पूर्ण प्रदर्शन एकल
    • खिताबी जीत ********* 6
    • इनामी राशि ********* $7,500,221
    • जीत-हार ********* 383-199
    अन्‍य
    • पहली बार नम्‍बर 1 ********* कभी नही

    • नम्‍बर एक रही ********* कभी नही


    मार्टीना हिंगिस
    MARTINA HINGIS (SUI)

    • जन्‍म तिथि ********* 30 सितम्‍बर 1980
    • देश ********* स्विजरलैण्‍ड
    • खेल रही है ********* 14 अक्‍टूबर 1994(2002 मे सन्‍यास, 06 मे वापसी)
    • वरीयता ********* 8
    • रेस वरीयता ********* 7
    • ग्रैण्‍ड स्‍लैम विजेता ********* 5 एकल,
    • ग्रैण्‍ड स्‍लैम उपविजेता ********* 7 एकल,
    • चैम्पियनसिप विजेता ********* 2 एकल
    • चैम्पियनसिप उ0वि0 ********* 2 एकल
    इस वर्ष का प्रदर्शन एकल
    • खिताबी जीत ********* 2
    • इनामी राशि ********* $1,029,537
    • जीत-हार ********* 52-17
    सम्‍पूर्ण प्रदर्शन एकल
    • खिताबी जीत ********* 42
    • इनामी राशि ********* $19,375,362
    • जीत-हार ********* 523-118
    अन्‍य
    • पहली बार नम्‍बर 1 ********* 31 मार्च 1997
    • नम्‍बर एक रही ********* 209 हफ्तो तक
    किम क्लिस्‍टर्स
    KIM CLIJSTERS (BEL)
    • जन्‍म तिथि ********* 8 जून 1983
    • देश ********* बेल्जियम
    • खेल रही है ********* 1999 से
    • वरीयता ********* 7
    • रेस वरीयता ********* 8
    • ग्रैण्‍ड स्‍लैम विजेता ********* 1 एकल,
    • ग्रैण्‍ड स्‍लैम उपविजेता ********* 4 एकल,
    • चैम्पियनसिप विजेता ********* 2 एकल
    • चैम्पियनसिप उ0वि0 ********* 0 एकल
    इस वर्ष का प्रदर्शन एकल
    • खिताबी जीत ********* 2
    • इनामी राशि ********* $1,122,992
    • जीत-हार ********* 36-10
    सम्‍पूर्ण प्रदर्शन एकल
    • खिताबी जीत ********* 32
    • इनामी राशि ********* $14,009,637
    • जीत-हार ********* 406-98
    अन्‍य
    • पहली बार नम्‍बर 1 ********* 11 अगस्‍त 2003
    • नम्‍बर एक रही ********* 19 हफ्तो तक


    Share:

    प्रेरक प्रंसग - सच्ची उपासना गुरु नानक देव



    एक बार गुरु नानक सुल्तानपुर पहुंचे। वहां उनके प्रति लोगों की श्रद्धा देख वहां के काजी को ईष्‍या हुई। उसने सूबेदार दौलत खां के खूब कान भरे और शिकायत की कि "यह कोई पाखण्डी है, इसीलिए आज तक नमाज पढ़ने कभी नहीं आया।''
    सूबेदार ने नानकदेव को बुलावा भेजा किन्तु उन्होंने उस ओर ध्यान नहीं दिया। जब सिपाही दुबारा बुलाने आया, तो वे उसके पास गये। उन्हें देखते ही सूबेदार ने डांटते हुए पूछा, ´´पहली बार बुलाने पर क्यों नहीं आये?’’

    ´मैं खुदा का बन्दा हूं, तुहारा नहीं' - नानकदेव ने शान्ति‍ पूर्वक उत्तर दिया।

    ´´अच्छा! तो तुम खुद को ´खुदा का बन्दा' भी कहते हो मगर क्या तुम्हें यह मालूम है कि किसी व्यक्ति से मिलने पर पहले उसे सलाम किया जाता है?"
    ´´मैं खुदा के अलावा और किसी को सलाम नहीं करता।" ´´तब फिर खुदा के बन्दे! मेरे साथ नमाज पढ़ने चल" - क्रोधित सूबेदार बोला और नानकदेव उसके साथ मस्जि‍द गये। सूबेदार और काजी तो नीचे बैठ कर नमाज पढ़ने लगे मगर गुरु नानक वैसे ही खड़े रहे। नमाज पढ़ते-पढ़ते काजी सोचने लगा कि आखिर उसने इस दम्भी (नानकदेव) को झुका ही दिया जबकि सूबेदार का ध्यान घर की ओर लगा हुआ था। बात यह थी कि उस दिन अरब का एक व्यापारी बढ़ि‍या घोड़े लेकर उसके पास आने वाला था। वह सोचने लगा कि शायद व्यापारी उसका इन्तजार करता होगा इसलिए नमाज जल्दी खत्म हो, तो वह घर जाकर सौदा तय करे।

    नमाज खत्म होने पर वे दोनों जब उठ खड़े हुए, तो उन्होंने नानकदेव को चुपचाप खड़े पाया। सूबेदार को गुस्सा आया। बोला, ´´तुम सचमुच ढोंगी हो। खुदा का नाम लेते हो, मगर नमाज नहीं पढ़ते।´´नमाज पढ़ता भी तो किसके साथ’’ - नानकदेव बोले, ´´क्या आप लोगों के साथ, जिनका ध्यान खुदा की तरफ था ही नहीं’’ अब आप ही सोचिए, क्या आपका ध्यान उस समय बढ़ि‍या घोड़े खरीदने की तरफ था या नहीं? और ये काजीजी तो उस समय मन ही मन खुश हो रहे थे कि उन्होंने मुझे मस्जि‍द में लाकर बड़ा तीर मार लिया है।
    यह सुनते ही दोनों झेंप गये और गुरु नानक के चरणों पर गिर कर क्षमा मांगी।


    शिक्षा - इस प्रेरक प्रंसग से यह शिक्षा मिलती है कि खुदा या भगवान किसी मस्जित या मन्दिर मे नही विराजते है वे विराजते है सच्‍चे भक्‍तो के हृदय मे जैसे गुरू नानक के हृदय मे थे। सच्‍चे मन से एक बार लिया गया नाम भी भगवान एक बार मे सुन लेते है तथा अधमने मन से 24x7 घन्‍टे का भजन भी व्‍यर्थ है। जो भी काम करो मन लगाकर करो। ईश्‍वर सब मे खुश रहता है।


    Share: