उत्तर प्रदेश के कुछ रोचक तथ्य



 उत्तर प्रदेश एक सामान्य अवलोकन


    • उत्तर प्रदेश का राज्य दिवस – 26 नवम्बर
    • उत्तर प्रदेश का राज्य पक्षी – सारस।
    • उत्तर प्रदेश का राज्य पशु – बारहसिंगा।
    • उत्तर प्रदेश का राज्य फूल -पलाश।
    • उत्तर प्रदेश का राज्य वृक्ष – अशोक
    • उत्तर प्रदेश की राजधानी – लखनऊ
    • उत्तर प्रदेश की राज्य भाषा – हिंदी
    • उत्तर प्रदेश के कुल जिले – 76
    • उत्तर प्रदेश के प्रथम मुख्यमंत्री – गोविन्द वल्लभ पन्त
    • उत्तर प्रदेश के प्रथम राजपाल – सरोजिनी नायडू
    • उत्तर प्रदेश के राज्यसभा सीटो की संख्या – 31
    • उत्तर प्रदेश के लोकसभा सीटो की संख्या – 80
    • उत्तर प्रदेश के विधानसभा सीटो की संख्या – 404
    उत्तर प्रदेश का इतिहास। History of Uttar Pradesh in Hindi:
    • उत्तर प्रदेश की जमीन पर इंसानों का इतिहास 4000 साल से भी पुराना है। कहा जाता है कि आर्यों को उत्तर प्रदेश की मिट्टी से बेहतर मिट्टी कहीं नहीं मिली और वो यहीं बस गए। यहीं उन्हें गंगा का पानी भा गया।
    • उत्तर प्रदेश को वैदिक काल में ब्रह्मर्षि प्रदेश या मध्य देश के नाम से जाना जाता था।
    • उत्तर प्रदेश भारद्वाज, गौतम, याज्ञवल्क्य, वशिष्ठ, विश्वामित्र एवं वाल्मीकि जैसे ऋषि मुनियों की तपो भूमि रहा है।
    • आर्यों द्वारा कई पवित्र ग्रन्थ इसी भूमि पर लिखे गये है।
    • भारत के दो महाकाव्य -रामायण और महाभारत कथा भी इसी क्षेत्र में लिखी गयी है।
    • रामायण और महाभारत के प्रेरणा स्त्रोत भगवान राम और श्रीकृष्ण की जन्मभूमि भी यही है।
    • ईसा पूर्व छठी शताब्दी में उत्तर प्रदेश दो नये धर्मो (जैन और बौध) के सम्पर्क में आया।
    • महात्मा बुद्ध ने अपना पहला उपदेश विश्व की प्राचीनतम नगरी काशी के पास सारनाथ में दिया।
    • महात्मा बुद्ध ने उत्तर प्रदेश के ही नगर कुशीनगर में निर्वाण प्राप्त किया था।
    • इतिहास की बात करें, तो प्राचीन समय में भारत देश 16 महा जनपदों में बंटा था। इनमें से 7 महा जनपद उत्तर प्रदेश की धरती पर थे।
    • उत्तर प्रदेश की धरती से ही बौद्ध और जैन धर्म समूची दुनिया में फैले। कुशीनगर में बुद्ध को महानिर्वाण प्राप्त हुआ। तो आखिरी बड़े सम्राट हर्ष वर्धन की नगरी कन्नौज भी उत्तर प्रदेश में है।
    • अंग्रेजों द्वारा 1775, 1798 और 1801 में नवाबों से छीने, 1803 में सिंधिया और 1816 में गोरखों से छीने गए क्षेत्रों को पहले बंगाल प्रेज़िडेन्सी के अन्तर्गत रखा, लेकिन 1833 में इन्हें अलग करके पश्चिमोत्तर प्रान्त (आरम्भ में आगरा प्रेज़िडेन्सी) गठित किया गया।
    • 1856 ई। में कम्पनी ने अवध पर अधिकार कर लिया और आगरा एवं अवध को संयुक्त प्रान्त (वर्तमान उत्तर प्रदेश की सीमा के समरूप) के नाम से इसे 1877 ई। में पश्चिमोत्तर प्रान्त में मिला लिया गया।
    • सन 1902 में नार्थ वेस्ट प्रॉविन्स का नाम बदल कर यूनाइटेड प्रोविन्स ऑफ आगरा एण्ड अवध कर दिया गया। साधारण बोलचाल की भाषा में इसे यूपी कहा गया।
    • सन् 1920 में प्रदेश की राजधानी को इलाहाबाद से लखनऊ कर दिया गया। प्रदेश का उच्च न्यायालय इलाहाबाद ही बना रहा और लखनऊ में उच्च न्यायालय की एक न्यायपीठ स्थापित की गयी।
    • 1950 में नए संविधान के लागू होने के साथ ही 12 जनवरी सन 1950 को इस संयुक्त प्रान्त का नाम उत्तर प्रदेश रखा गया और यह भारतीय संघ का राज्य बना। उत्तर प्रदेश का अधिकतम हिस्सा अवध राज्य के अधीन था। अवध यानी आज का मध्य उत्तर प्रदेश का हिस्सा। इस हिस्से में लखनऊ से फैजाबाद तक का भूभाग आता था।
    • 1902 में इसका नाम बदलकर संयुक्त प्रान्त कर दिया गया।
    • उत्तर प्रदेश का पुराना नाम: 1950 से पहले उत्तर प्रदेश अस्तित्व में ही नहीं था, सन 1950 में इस राज्य का नाम उत्तर प्रदेश पड़ा। उससे पहले उत्तर प्रदेश युनाइटेड प्रॉविंस के नाम से जाना जाता था।
    • उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) स्थापना 01 अप्रैल 1937 में अंग्रेज राज के दौरान हुयी लेकिन इसका नामकरण 1950 में हुआ था।
    • उत्तर प्रदेश जनसंख्या: उत्तर प्रदेश की आबादी 20 करोड़ से अधिक है। इस तरह दुनिया के सिर्फ 5 देश ही उत्तर प्रदेश राज्य से अधिक आबादी वाले देश हैं। ये 5 देश हैं चीन, संयुक्त राज्य अमरीका, इंडोनेशिया, ब्राज़ील और स्वयं भारत।
    • उत्तर प्रदेश की जितनी आबादी है, उतनी आबादी में समूचे ऑस्ट्रेलिया महाद्वीप में भी नहीं है।
    • उत्तर प्रदेश में कितने जिले है: 76
    • उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा जिला: लखीमपुर
    उत्तर प्रदेश का भूगोल
    • उत्तर प्रदेश भारत का एकमात्र राज्य है जिसकी सीमा सबसे अधिक राज्यों से जुडी हुयी है। उत्तर प्रदेश की सीमा अन्य नौ राज्यों से जुडी हुयी है।
    • प्रदेश के उत्तर में उत्‍तराखंड और नेपाल, दक्षिण में मध्य प्रदेश छ‍त्‍तीसगढ़, दक्षिण पश्चिम में राजस्थान ,पूर्व में बिहार झारखंड और पश्चिम में हरियाणा एवं दिल्ली है।
    • प्रदेश में विन्ध्य, शिवालिक, और कैमूर पहाड़िया है।
    • उत्तर प्रदेश में गंगा, यमुना, गोमती, रामगंगा, घाघरा, गंडक, टोंस, बेतवा काली या शारदा, चम्बल, सिंध, केन सोन, राप्ती प्रमुख नदिया है।
    उत्तर प्रदेश की आर्थिक स्थिति। Economical Facts of Uttar Pradesh in Hindi:
    • प्रदेश की करीब 73 प्रतिशत जनसंख्या का मुख्य व्वयसाय कृषि है।
    • उत्तर प्रदेश में देश का सर्वाधिक गन्ना उत्पादित किया जाता है।
    • यहा पर दाले , तिलहन , पटसन , आलू का उत्पादन भी बहुतायत किया जाता है।
    • चमडा , कांच के सामान ,जूट ,चीनी ,सीमेंट , खाधय तेल ,सूती वस्त्र ,रेशमी वस्त्र ,उनी वस्त्र ,एलुमिनियम , इंजीनियरिंग समाना एवं अन्य उद्योग स्थापित है।
    • खनिजो में कोयला, ताम्बा, फायर क्ले, चुना-पत्थर, जिप्सम, डोलोमाईट, मैगनेजाईट, बोक्सोईट, फास्पोराईट, डायोस्पार और पायरोफेलाईट प्रमुख रूप से पाए जाते है।
    उत्तर प्रदेश के प्रमुख त्यौहार। Festivals of Uttar Pradesh in Hindi:
    • यहा हिन्दुओ के प्रमुख त्योहारों में होली ,शीतला अष्टमी ,रक्षा बंधन ,बैसाखी पूर्णिमा ,गंगा दशहरा ,कृष्ण जन्माष्टमी , नाग पंचमी ,रामनवमी ,गणेश चतुर्थी ,दिवाली और शिवरात्री शामिल है।
    • मुस्लिम ईद , बकरीद ,बाराहवफात और शब-ए-बरात मनाते है।
    • मथुरा के निकट स्थित बरसाना की लट्ठमार होली काफी प्रसिद्ध है।
    • इलाहाबाद में प्रत्येक बारहवे वर्ष कुम्भ मेला लगता है जो दुनिया का सबसे बड़ा मेला है।
    • इसके अलावा इलाहाबाद में प्रत्येक 6 साल में अर्ध कुम्भ मेले का आयोजन होता है।
    • इलाहाबाद में ही हर साल जनवरी में माघ मेला भी आयोजित होता है जिसमे बड़ी संख्या में लोग संगम में डुबकी लगाते है।
    • अन्य मेलो में मथुरा ,वृंदावन एवं अयोध्या के झुला मेले शामिल है।
    • आगरा जिले के बटेश्वर में पशुओ का प्रसिद्ध मेला लगता है।
    उत्तर प्रदेश में परिवहन। Transportation Facts of Uttar Prdadesh in Hindi:
    • आगरा, कानपुर, इलाहाबाद, मुरादाबाद, मुगलसराय, वाराणसी, टूंडला, गोरखपुर, फैजाबाद, बरेली, सीतापुर और गोंडा जंक्शन है।
    • इसके अलावा चार घरेलू हवाई अड्डे आगरा ।इलाहाबाद ,गोरखपुर और कानपुर में है।
    • उत्तर प्रदेश रेलवे नेटवर्क में भारत में प्रथम स्थान पर है।
    • उत्तर प्रदेश से 42 राष्ट्रीय राजमार्ग गुजरते है जिनकी कुल लम्बाई 4,942 किमी है।
    • राज्य में रेलमार्गों की कुल लम्बाई 8,546 किमी है।
    • लखनऊ का चौधरी चरण सिंह हवाई अड्डा और वाराणासी का लाल बहादुर शास्त्री हवाई अड्डा अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे है। जिसमे से लखनऊ का हवाई अड्डा भारत का दूसरा सबसे व्यस्ततम हवाई अड्डा है।
    उत्तर प्रदेश के रोचक तथ्य। Interesting Facts about Uttar Pradesh in Hindi: 
    • अगर आपको स्‍वीटजरलैंड में गाय के गले में बंधी घंटिया लुभाती हैं, तो उन्‍हे देखकर वॉउ करने से पहले यूपी के बारे में जान लें कि यूपी के एटा जिले के एक गांव जालेसर से हर साल भारी मात्रा में इन पीतल की घंटियों को बनाकर विदेशों में भेजा जाता है।
    • इलाहाबाद कुम्भ मेले में लगभग 12 करोड़ लोग आते है। विश्व का यह ऐसा मेला है जहा सबसे अधिक लोग आते है।
    • इलाहाबाद हाई कोर्ट भारत का सबसे पुराना हाई कोर्ट है।
    • उत्तर प्रदेश का जीडीपी लगभग 150 बिलियन अमेरिकी डॉलर (2014-2015) है, जो आइसलैंड, मोनाको, बांग्लादेश, स्लोवाकिया, ओमान, अंगोला, हंगरी और कई अन्य देशों से अधिक है।
    • उत्तर प्रदेश की जनसँख्या इन देशो (सिंगापुर, स्लोवाकिया, नार्वे, फिनलैंड, डेनमार्क, ओमान, आयरलैंड, न्यूजीलैंड, पनामा, कुवैत, लिथुआनिया, कतर) की जनसँख्या से भी अधिक है।
    • उत्तर प्रदेश की विधानसभा और विधानपरिषद में भारत देश के संसद की तरह ही एंग्लो-इंडियन के लिए सीटें आरक्षित हैं। विधानसभा और विधानपरिषद में एक एक सीटें आंग्ल-भारतीयों के लिए सुरक्षित हैं।
    • उत्तर प्रदेश में काफी सारे धार्मिक स्थल है जैसे कि इलाहाबाद, वाराणसी, लखनऊ, आगरा, गोरखपुर, अयोध्या, मथुरा, बृन्दावन और भी कई महत्वपूर्ण धार्मिक स्थल है।
    • उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा लोकसभा सीटें(80) और सर्वाधिक राज्यसभा सीटें(31) हैं। जो देश की राजनीति की दिशा और दशा तय करते हैं।
    • उत्तर प्रदेश से ही निकला कथक नृत्य समूची दुनिया मे अपनी पहचान रखता है।
    • उत्तर प्रदेश ही तमाम बोलियों की शुरुआत की जमीन है। ब्रज और अवधी के साथ ही 40 अन्य बोलियां उत्तर प्रदेश में बोली जाती हैं।
    • जवाहरलाल नेहरू, लाल बहादुर शास्त्री, इंदिरा गांधी, चौधरी चरण सिंह, राजीव गांधी, वी पी सिंह, चंद्रशेखर, अटल बिहारी वाजपेयी और नरेंद्र मोदी।। कुल 14 में से 9 प्रधानमंत्री उत्तर प्रदेश की धरती से आए।
    • पारिजात वृक्ष, लखनऊ से 40 किमी। की दूरी पर है, जो सारी दुनिया में अपनी तरह का अलग वृक्ष है। इस वृक्ष को इसके फूलों के लिए जाना जाता है जो हर दिन अपना रंग बदलते हैं। लोग मानते है कि भगवान कृष्‍ण की दूसरी पत्‍नी के लिए यह वृक्ष स्‍वर्ग से आया था।
    • भारत सरकार का चिन्‍ह् मौर्य सम्राट अशोक के द्वारा उत्‍तर प्रदेश के वाराणसी के निकट सारनाथ में बनवाया गया था, जिसे 1947 के बाद भारत सरकार ने अपना चिन्‍ह बना लिया था।
    • भौगोलिक स्थिति को देखें तो यह भारत जैसी भौगोलिक विविधता लिए हुए है, उत्तर में पहाड़, पश्चिम में रेगिस्तान, बीच अवध वाले इलाके में सर्वश्रेष्ठ दोमट मिट्टी, तो दक्षिण में पठारी इलाका। उत्तर में चिकनी मिट्टी और घने जंगल। इस तरह से उत्तर प्रदेश सर्वाधिक जैव विविधता वाला राज्य भी रहा।
    • यूपी के कन्‍नौज जिले में इत्र भारी मात्रा में बनाया जाता है। अगर आप कभी इस शहर से गुजरे तो गुलाबों की खुशबु हवा में आसानी से महसूस की जा सकती है। यहां के खेतों में फसल से ज्‍यादा फूलों जैसे – गुलाब, गेंदा और मेंहदी की पैदावार होती है।
    • यूपी के कानपुर में होली का पर्व सिर्फ एक दिन ही नहीं बल्कि पूरे दस दिन मनाया जाता है, यहां गंगा मेला लगने तक लोग रोज एक-दूसरे पर रंग डालते हैं, वहीं मथुरा में लट्ठमार होली खेली जाती है।
    • यूपी के महाराजगंज में ऐसा समोसा बना है जिससे जिले का नाम विश्व पटल पर अंकित हो गया हैं। यहां के युवाओं ने विश्व का सबसे बड़ा समोसा बनाकर गिनीज बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकार्ड्स में अपना नाम दर्ज कराया है।
    • यूपी में भारत की सबसे ज्‍यादा तम्‍बाकू और बीड़ी बनाई जाती है। यहां के कासंगज इलाके में तम्‍बाकू की खेती उच्‍च स्‍तर पर होती है और गुरसहायगंज इलाके के हर घर में सिर्फ बीड़ी बनाने का काम होता है। यहां से सारी दुनिया को इन नशीले पदार्थो को भेजा जाता है।
    • संगीत की कई विधाओं का जन्‍म यूपी में ही हुआ था, अकबर के दरबार के तानसेन और बैजू बावरा ने उत्‍तर प्रदेश में संगीत कला को एक उच्‍च स्‍थान का दर्जा दिलवाया। तबले और सितार का विकास भी इसी राज्‍य में हुआ था।


    Share:

    2 comments:

    Gyandutt Pandey said...

    यह प्रदेश चिरकुटत्व का मूलस्थान है!

    Udan Tashtari said...

    यह एक मात्र प्रदेश है जिसमें महाशक्ति प्रमेन्द्र प्रताप का स्थाई निवास है. :)